May 21, 2019 8:58 AM
Breaking News
Home / फ़्लैश / छिटपुट हिंसा के बीच छठे चरण का मतदान खत्म, कई प्रत्याशियों की किस्मत ई-वीएम में कैद

छिटपुट हिंसा के बीच छठे चरण का मतदान खत्म, कई प्रत्याशियों की किस्मत ई-वीएम में कैद

12 मई 2019

लोकसभा चुनाव के छठे चरण में रविवार को 59 सीटों पर छिटपुट हिंसा के बीच शाम सात बजे तक कुल 61.16 प्रतिशत वोटिंग हुई। इस चरण में पश्चिम बंगाल से हिंसा की खबर आई जहां पर घाटल से बीजेपी प्रत्याशी भारती घोष के काफिले पर हमला किया गया। बीजेपी ने इस हमले के पीछे ‘तृणमूल के गुंडों’ का हाथ बताया ।

पश्चिम चंपारण लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी संजय जायसवाल पर नरकटिया के बूथ नंबर 162 पर लाठी-डंडे से लैस भीड़ ने हमला कर दिया। हालांकि, बॉडीगार्ड ने हवाई फायरिंग कर किसी तरह संजय को बचाया। इस दौरान कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट हुई। संजय को बूथ के अंदर ले जाया गया और बूथ के बाहर सैकड़ों की संख्या में लोग लाठी-डंडा लिए जमे रहे ।

संजय जायसवाल वहां पर वोटिंग के दौरान निरीक्षण करने आए थे। यहां सुरक्षा-व्यवस्था की कमी थी, जिससे लिए उन्होंने प्रशासन को सूचना दी थी। इस बारे में संजय जायसवाल ने कहा कि यहां वोट डालने आए लोगों को मारकर भगा दिया जा रहा था। मैंने इसकी सूचना प्रशासन को दी थी। मैं बिंदटोली गया और मतदाताओं को साथ लेकर पहुंचा। परजाइडिंग ऑफिसर से बात कर रहा था तभी सैकड़ों की संख्या में लोगों ने हमला कर दिया। बॉडीगार्ड गोली नहीं चलाता तो मेरी हत्या कर दी जाती।

यूपी और बिहार समेत कई जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी के चलते लोगों को कुछ मुश्किलों का भी सामना करना पड़ा। छठे चरण में कई दिग्गजों की किस्मत का फैसला मतपेटी में बंद हो गया। इनमें हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र हुड्डा, दिल्ली बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष मनोज तिवारी, दिल्ली कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष शीला दीक्षित, प्रज्ञा ठाकुर, रीता बहुगुणा जोशी, शिबू सोरेन और दिग्विजय सिंह जैसे बड़े चेहरे शामिल हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शाम सात बजे तक लोकसभा चुनाव के छठे चरण में दिल्ली और बिहार में सबसे कम वोटिंग दर्ज हुई। बिहार में 59.29 फीसदी, हरियाणा में 62.91 फीसदी, मध्य प्रदेश में 60.40 फीसदी, उत्तर प्रदेश में 53.37 फीसदी, पश्चिम बंगाल में 80.16 फीसदी, झारखंड में 64.46 फीसदी वोटिंग और दिल्ली में 56.11 फीसदी वोटिंग दर्ज हुई।

वोट डालने पहुंची प्रियंका गांधी ने कहा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी से गठबंधन करने पर कांग्रेस को फायदा नहीं मिलता. उन्होंने कहा कि मुझे हिंसा का पुरस्कार स्वीकार नहीं है । प्रियंका गांधी ने कहा जनता वोट से जवाब देगी और कांग्रेस इस बार उम्मीद से ज्यादा सीटें जीतेगी । उन्होंने वोट डालकर खुद को दिल्ली की लड़की बताया ।

Check Also

चुनाव प्रचार खत्म होते ही पीएम ने अमित शाह के साथ मिलकर की पहली पीसी, राहुल बोले-वेरी गुड

17 मई 2019 अपने दूसरे कार्यकाल को लेकर शुक्रवार को चुनाव प्रचार को खत्म होने …

error: