June 21, 2019 1:23 AM
Breaking News
Home / सोनभद्र / अधीक्षक पर झोलाछाप से अवैध वसूली का मामला प्रकाश में,आक्रोश

अधीक्षक पर झोलाछाप से अवैध वसूली का मामला प्रकाश में,आक्रोश

25 मई 2019

मुकेश अग्रवाल (संवाददाता)

-झोलाछापों की क्लिनिक पर लटकाया जा रहा है ताला

-कार्यवाही के नाम पर होती है अवैध वसूली

-रकम मिलते ही अधीक्षक खुलवा देतें है ताला

बीजपुर ।गाँवों में झोलाछाप डॉक्टर छोटे-छोटे जगहों में क्लिनिक खोलकर कर गरीब ग्रामीण,बेसहारों का प्राथमिक इलाज कर अपनी जीविका चला रहे हैं।अति सुदूर क्षेत्र के ग्रामीण जब अचानक बीमारी की चपेट में आ जाते है तो स्वास्थ्य केंद्र दूर होने के कारण साधन की अभाव में नही पहुंच पाते हैं एम्बुलेंस भी सुदूर क्षेत्रों में काफी लेट पहुँचती है।जिससे मजबूरन झोलाछाप के यहां जाकर प्राथमिक उपचार करातें है जिससे कि मरीज को राहत मिल सके।कहीं-कहीं झोलाछाप के इलाज से मरीज का हालत खराब भी हो जाता है।
जब से आचार संहिता लागू है तब से झोलाछापों डॉक्टरों के लिए सामत सी आ गयी है ,सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र म्योरपुर के अधीक्षक पर झोलाछापों से अवैध वसूली का मामला भी प्रकाश में आ रहा है।सूत्रों की मानें तो अधीक्षक द्वारा क्षेत्र में जाकर झोलाछाप डॉक्टरों के क्लिनिक पर ताला जड़ दिया जा रहा है,और कहा जाता है कल आकर मिल लेना नही तो कार्यवाही के लिए तैयार रहना।अगले सुबह जब अधीक्षक को हजारों की रकम पहुंच जाती है तो जड़े ताले की चाभी सौंप कर क्लिनिक खुल जाता है।इस प्रकार दर्जनों झोलाछाप से अधीक्षक द्वारा अवैध वसूली कर काली कमाई इकट्ठा किया जा रहा है।कई शोषित झोलाछाप नाम छुपाने की शर्त पर बताया कि क्लिनिक पर ताला जड़कर 20 हजार से 50 हजार तक अधीक्षक द्वारा रकम लेकर ताले की चाभी दी गयी है।जबकि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र म्योरपुर कस्बा में भी कई झोलाछाप अवैध क्लिनिक खोलकर इलाज कर रहे हैं लेकिन आज तक उनके यहाँ ताला नही जड़ा गया।परन्तु गाँव में झोलाछाप के यहां ताला लटका-लटका अधीक्षक वसूली का जरिया बना लिए हैं।अगर झोलाछाप का क्लिनिक बन्द ही करना है तो एक तरफ से छापेमारी कार्यवाही कर बन्द कर दिया जाय,सौतेला व्यवहार बन्द होना चाहिए।आचार संहिता जब से लगा है तब से दर्जनो झोलाछाप क्लिनिक पर ताला जड़ा खोला गया परन्तु आज तक किसी पर कार्यवाही नही किया गया।अभी अभी अधीक्षक का ऐसा कारनामा धड़ल्ले से चल रहा है।अगर गोपनीय जाँच हो जाये तो कारनामों की कलई खुल जाएगी।इस सम्बंध में अधीक्षक डॉ राजीव रंजन ने कहा कि एक झोलाछाप से पेपर मांगा गया है पैसे लेने की बात निरर्थक है।

Check Also

खनन मंत्री ने किया,इंजीनियरिंग कालेज चुर्क तक स्ट्रीट लाईट का उद्धाटन

गुरुवार 20 जून 2019 अंशु खत्री/दिलीप श्रीवास्तव(चुर्क संवाददाता) चुर्क। प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना के …

error: