June 26, 2019 2:06 AM
Breaking News
Home / फ़्लैश / इफ्तार में पहुँचे मेहमानों के साथ बदसलूकी का मामला : भारतीय उच्चायोग ने पाकिस्तान के सामने दर्ज कराया विरोध

इफ्तार में पहुँचे मेहमानों के साथ बदसलूकी का मामला : भारतीय उच्चायोग ने पाकिस्तान के सामने दर्ज कराया विरोध

02 जून 2019

इस्लामाबाद. । पुलवामा अटैक के बाद दोनों देशों के बीच तनाव कुछ कम होता दिख रहा था, लेकिन इस बीच पाकिस्तान ने एक बार फिर नापाक हरकत की है। पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में शनिवार शाम भारतीय उच्चायोग की ओर से आयोजित इफ्तार में पहुंचे मेहमानों को पाकिस्तानी अधिकारियों की जबरदस्त बदसलूकी का सामना करना पड़ा क्योंकि सुरक्षा जांच बढ़ाने के कारण ये अधिकारी उन्हें किसी न किसी वजह से रोक रहे थे। भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया ने सेरेना होटल में वार्षिक इफ्तार कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें पूरे पाकिस्तान से अतिथियों को आमंत्रित किया गया था। भारत ने इस नापाक हरकत को लेकर इस्लामाबाद से औपचारिक तौर पर विरोध दर्ज कराया है।

भारतीय उच्चायोग ने रविवार को पाकिस्तान के सामने विरोध दर्ज कराया और इफ्तार में आमंत्रित मेहमानों को धमकी दिए जाने और उनके साथ बदसलूकी की भद्दी घटनाओं की तत्काल जांक की मांग की है। उच्चायोग ने पाकिस्तान से कहा है कि जांच नतीजे से उसे भी अवगत कराया जाए।

सूत्रों के मुताबिक भारतीय उच्चायोग में शनिवार को आयोजित इफ्तार पार्टी में पाकिस्तानी एजेंसियों न सिर्फ मेहमानों से बदसलूकी की, बल्कि उन्हें फोन पर भी धमकी दी गई।
इस पर टिप्पणी करते हुए पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया ने कहा कि हम अपने उन सभी मेहमानों से माफी मांगते हैं, जिन्हें वापस लौटा दिया गया। पाक एजेंसियों की इस तरह की हरकत निराशाजनक है। उन्होंने कहा, ‘पाक अधिकारियों ने न सिर्फ कूटनीतिक प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया बल्कि असभ्य व्यवहार किया। इससे द्विपक्षीय संबंधों पर असर पड़ेगा।’

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव में एक बार फिर से जीत दर्ज करने के बाद बिम्सटेक देशों के राष्ट्राध्यक्षों को अपने शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया, लेकिन पाकिस्तान को इससे दूर ही रखा। यही नहीं पाक पीएम इमरान खान ने उन्हें बधाई देने के लिए फोन किया तो उन्हें भी नसीहत दी कि क्षेत्र में आतंक मुक्त वातावरण होना चाहिए।

Check Also

राजस्थान में कर्ज से डूबे किसान की मौत, सुसाइड नोट में गहलोत और सचिन पायलट को बताया दोषी

25 जून 2019 किसानों को लेकर देश में लगातार कई बड़ी-बड़ी बातें होती हैं लेकिन …

error: