June 26, 2019 2:11 AM
Breaking News
Home / धर्म-कर्म / नकारात्मक ऊर्जा,हो सकता हैं सफलता का बाधक,जानें

नकारात्मक ऊर्जा,हो सकता हैं सफलता का बाधक,जानें


अगर मन स्थिर नहीं रहता या एकाग्रता की कमी है तो कहीं न कहीं हमारे आसपास मौजूद नकारात्मक ऊर्जा इसका कारण हो सकती है और यही हमारी सफलता में बाधक हो सकती है। ऊर्जा का संतुलन बेहद आवश्यक है। वास्तु में बताए गए कुछ आसान से उपाय हमारे लिए मददगार साबित हो सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में।

घर में सकारात्मक ऊर्जा बनाए रखने के लिए कोई भी हिंसक तस्वीर या ऐसा कोई भी कैलेंडर नहीं लगाना चाहिए। घर को हमेशा स्वच्छ रखें। उत्तर पूर्व दिशा में पढ़ाई संबंधी कार्य करें। बच्चों के कमरे में हरे रंग के परदे लगाएं। मां सरस्वती का चित्र लगाएं। तुलसी के 11 पत्तों के रस का मिश्री के साथ नियमित रूप से सेवन करने से एकाग्रता में वृद्धि होती है। घर में टूटे खिलौने हैं तो इन्हें तुरंत हटा दें, क्योंकि इनसे नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है। घर में बंद घड़ियां न हों। ये भी नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करती हैं। घर में नमक के पानी से पोछा लगाएं। घर में अच्छी प्रकाश व्यवस्था होनी चाहिए। घर की पूर्व-उत्तर दिशा को खाली रखें। यहां कोई भारी वस्तु न रखें। करियर से संबंधित कोई भी चीज किसी को भी नहीं दें। दफ्तर में अपने पीछे की दीवार पर ऊंची इमारत की तस्वीर लगाएं। घर में सकारत्मक ऊर्जा का प्रवाह बनाए रखने के लिए रोजाना शंख बजाएं। भगवान को अर्पित फूल रात होने से पहले मंदिर से उठा लें। कांटे वाले पौधों को हमेशा घर के बाहर ही रखें। ऐसे पौधे नकारात्मकता फैलाते हैं।

नोट:
इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लेवें।

Check Also

यह माह भगवान श्रीहरि विष्णु का प्रिय पुरुषोत्तम माह हैं, ऐसा माना जाता है, जानें

आषाढ़ माह को वर्षा ऋतु का महीना भी कहा जाता है। इस माह से वर्षा …

error: